| इस पृष्ठ को प्रिंट करें
English Web Site
मुख्यपृष्ठ हमारे बारे में कार्यक्रम प्रकाशन सोनभद्र को जानें

 

 
| मिशन एवं उद्देश्य | उपलब्धियां | संगठनात्मक संरचना |
 

मिशन एवं उद्देश्य

 

मिशन

 
  बनवासी सेवा आश्रम समाज की आत्म-निर्भरता के लिए वचनबद्ध है: ग्रामीणों का एक समूह एक बिंदु को सुनते हुए

गांधीवादी अपने कार्य को आत्मनिर्भर ग्रामीण समुदाय के सृजन के रूप में परिभाषित करते हैं। वे एक ऐसे सशक्त समाज को प्रोत्साहित करना चाहते हैं जिसमें पारंपरिक जीवन के सभी सकारात्मक मूल्य सम्मिलित हों तथा उसे आधुनिक ज्ञान के लाभ इस प्रकार मिलें जिससे न तो लोग और न प्रकृति का अनुचित दोहन हो सके। वे सर्वोदय, सभी का विकास, तथा अंत्योदय, सबसे अंतिम व्यक्ति पर सबसे पहले ध्यान, पर जोर देते हैं।

उद्देश्य

  • सामाजिक, आर्थिक तथा शैक्षणिक गतिविधियों के माध्यम से लोगों का सशक्तीकरण ताकि वंचित ग्रामीण समुदायों का समग्र विकास किया जा सके।
  • लोगों को सर्वोदय तथा ग्राम स्वराज्य के सिध्दान्तों के अनुसार जीवन यापन करने के लिए प्रोत्साहित कर आत्मनिर्भर तथा समरसतापूर्ण समाज का विकास करना।
  • विकासात्मक प्रक्रियाओं की सफलता सुनिश्चित करने के लिए आश्रम तथा ग्रामीण कार्यकर्ताओं का क्षमता वर्ध्दन करना।
  • संपूर्ण भारत से युवा स्वयंसेवकों का समर्थन करना ताकि वे ग्राम स्वराज की दिशा में कार्य कर सकें।